constution
  By : Team Khabre |January 22, 2018

अश्विनी ‘सत्यदेव’ नई दिल्ली। ए​क फिल्म बनी जिसका आधार एक किताब थी, फिल्म बनाने वाले ने ये कभी नहीं सोचा था कि, लोग उसके फिल्म कौशल को तालियों के बजाय गालियों से नवाजेंगे। सड़क से लेकर न्यायपालिका तक हर जगह उसे ये साबित करना होगा कि, उसने किसी के सम्मान को ठेंस पहुंचाने के लिए […]

और पढ़े