एमपीः अब सरकारी स्कूलों में स्टूडेंट्स बोलेंगे ‘जय हिंद’

  By : Bankatesh Kumar | May 16, 2018
madhya pradesh, education department, government school, jai hind, students, मध्य प्रदेश, शिक्षा विभाग, सरकारी स्कूल,जय हिंद, स्टूडेंट्स

नई दिल्ली। अब मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चे देशभक्ति से लबरेज होंगे। स्टूडेंट्स स्कूल में अपनी उपस्थिति यस सर या यस मैम नहीं, बल्कि ‘जय हिंद’ बोलकर दर्ज कराएंगे। इसके लिए शिक्षा विभाग ने ऑफिशियल तौर पर आदेश जारी कर दिया है। जल्द ही इसे नए शैक्षणिक सत्र से लागू कर दिया जाएगा। शिक्षा विभाग की मानें तो सरकार के इस फैसले से सभी छात्रों के मन में देशभक्ति की भावना जागेगी।

जानकारी के मुताबिक यह आदेश सिर्फ सरकारी स्कूलों पर लागू किया गया है। नीजि विद्यालयों पर यह आदेश लागू नहीं होगा। बता दें कि सितंबर 2017 में यस सर, यस मैम की जगह ‘जय हिंद’ बोलने का आदेश सबसे पहले सतना जिले के सरकारी स्कूलों में लागू किया गया था। शिक्षा मंत्री विजय शाह ने यह आदेश जारी किया था। तभी उन्होंने यह स्पष्ट शब्दों में कह दिया था कि निजी विद्यालय जय हिंद बोलने को लेकर खुद फैसला करने के लिए आजाद हैं।

बता दें कि 30 नवंबर 2016 को सुप्रीम कोर्ट ने थियेटर्स में फिल्म से पहले राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य किया था। लेकिन इसी साल 9जनवरी को सुप्रीम कोर्ट ने 30 नवंबर 2016 को दिया गया अपना फैसला पलट दिया। कोर्ट ने अब इसे ऑप्शनल कर दिया है। दरअसल केंद्र सरकार ने एफिडेविट दाखिल करके कोर्ट से इस फैसले से पहले की स्थिति बहाल करने की गुजारिश की थी। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुआई वाली बेंच ने कहा कें केंद्र सरकार की ओर से बनाई गई 12 मेंबर वाली कमेटी अब इस पर आखिरी फैसला करेगी। मालूम हो कि 23 अक्टूबर 2017 को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से कहा था कि सिनेमाहॉल और दूसरी जगहों पर राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य हो या नहीं, इसे वह (सरकार) तय करे।