सुकमा हमला: जानिए नक्सलियों ने कैसे बनाई IED ब्लास्ट की योजना

  By : Team Khabare | March 13, 2018 4:57 pm

रायपुर। आज छत्तीसगढ़ के सुकमा इलाके में नक्सलियों ने सीआरपीएफ जवानों पर हमला किया जिसमें हमारे 9 जवान शहीद हो गयें और 25 जवान गंभीर रूप से घायल हो गये। नक्सलियों ने सीआरपीएफ की माइन प्रोटेक्शन व्हीकल को IED ब्लास्ट कर उड़ा दिया था। लेकिन इस वारदात को अंजाम देने से पहले सीआरपीएफ की 208 बटालियन के कोबरा कमांडोज़ ने आज सुबह नक्सलियों को खदेड़ा था।

आज सुबह 8 बजे नक्सलियों ने सीआरपीएफ की 208 बटालियन पर हमला किया। जिसके बाद जवाबी कार्यवाही में जवानों ने नक्सलियों का मूंह तोड़ जवाब दिया और नक्स​ली मौके पर भाग खड़े हुए। हालांकि सुबह हुई इस गोलीबारी में किसी भी जवान को कोई भी नुकसान नहीं हुआ।

लेकिन लगभग 4 घंटे बाद नक्सलियों ने एक बारूदी सुरंग के जरिए सीआरपीएफ की माइन प्रोटेक्शन व्हीकल को IED से ब्लॉस्ट कर उड़ा दिया। इस हमले के बारे में सीआरपीएफ के जवान बिलकुल अनजान थें और अचानक हुए इस हमले ने माअन प्रोटेक्शन व्हीकल के परखच्चे उड़ा दियें।

जंगल में मीटिंग कर नक्सलियों ने बनायी योजना —

सूत्रों के हवाले से मिली खबर के अनुसार सुकमा इलाके में बड़े नक्सली हमले के लिए पहले से ही अलर्ट जारी कर दिया गया था। बताया जा रहा है कि, नक्सलियों ने बीजापुर के जंगलों में एक बड़ी मीटिंग की थी जिसमें तकरीबन 200 नक्सली शामिल थें। इस मीटिंग में ही एक बड़े हमले ही रूपरेखा तैयार की गयी थी। इस मीटिंग के दौरान नक्सली कमांडर हिडमा और पुलारी प्रसाद भी शामिल थें।