युवतियों से रेप, पंचायत ने लगाया 30 हजार का जुर्माना

  By : Bankatesh Kumar | July 11, 2018
chhattisgarh, jashpur, manora vikaskhand, eap, panchayat, mutton party, छत्तीसगढ़,जशपुर,मनोरा विकासखंड, रेप, पंचायत, मटन पार्टी

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ से समाज को शर्मसार करने वाली एक घटना सामने आई है। जहां आदिवासी बाहुल्य जिले जशपुर में कई लोगों ने तीन युवतियों के साथ गैंगरेप किया। हद तो तब हो गई जब पंचायत ने इंसाफ के नाम पर आरोपियों से ३० रुपए का आर्थिक जुर्माना लगाकर बरी कर दिया। वहीं जुर्माने के रूपए से पंचायत में जमकर पार्टी की गई। पार्टी में मटन औक शराब का खूब जलवा रहा।

मिली जानकारी के मुताबिक मनोरा विकासखंड की रेमने पंचायत में बीते दिनों तीन लड़कियां किसी काम से घर से बाहर गई थी। इसी दौरान गांव के कुछ लोगों ने युवतियों को जबरदस्ती अगवा कर लिया और जंगल में ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। जब तीनों लड़कियां देर तक घर नहीं पहुंची तो उसके पिता उन्हें खोजने के लिए बाहर निकले। जब लड़कियां मिली तो उसने आपबीती सुनाई।

इसके बाद पिता ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने का निर्णय लिया। जब वे थाने जाने की तैयारी कर रहे थे तो पंचायत ने पीड़िता के पिता को पुलिस के पास जाने से रोक दिया। साथ ही पंचायत में ही न्याय दिलाने की बात कही। जब अगले दिन पंचायत बैठी तो इसमें गांव के सभी लोग बैठे और पंचायत ने पीड़ित परिवार को 30 हजार रूपए देने का फैसला सुनाया। मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी के पिता से वसूली गई रकम में से कुछ पैसों से मटन खरीदकर पूरे गांव द्वारा जश्न मनाया गया। जबकि बाकि बचे हुए पैसों को आपस में बांट लिया गया। खुद गांव के पंचायत के सरपंच नारायण भगत ने खुद स्वीकार किया है कि उसने यह मामला आपस में सुलझा लिया।