कर्नाटक: जीत के जश्न में डूबी थी BJP, कांग्रेस ने पलटी बाजी

  By : Rahish Khan | May 15, 2018
कर्नाटक में मौजूद कांग्रेस के सीनियर नेता गुलाम नबी आजाद ने पत्रकारों देवगौड़ा से कहा है कि उनकी देवगौड़ा और उनके बेटे कुमारस्वामी दोनों के साथ फोन पर बात हुई है. उन्होंने बताया कि जेडीएस ने इस प्रस्ताव को स्वीकार किया है. आजाद ने कहा कि जेडीएस सरकार चलाएगी. उन्होंने आगे कहा कि शाम को गवर्नर से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया जाएगा. उन्होंने कहा कि राज्यपाल से कहा जाएगा कि हमारे पास बीजेपी से ज्यादा सीटें हैं

बेंगलुरू। कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी भले ही 104 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी हो लेकिन बहुमत हासिल करने में नाकाम हो गई। ऐसे में 78 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर रही कांग्रेस ने नया दांव चलते हुए जेडीएस के नेता एचडी कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री का पद ऑफर करते हुए उन्हें समर्थन देने का ऐलान कर दिया है। आखिरकार कांग्रेस को इसमें सफलता मिलती दिख रही है।

कर्नाटक में बीजेपी चुनावी जंग जीतने में तो कामयाब हो गई लेकिन जादुई आंकड़े छूने से करीब 9 सीट दूर रह गई। बीजेपी शुरुआती रुझानों की खुशी में डूबी हुई थी, जबकि त्रिशंकु विधानसभा की हालत देखकर कांग्रेस खेल करने में जुट गई। कांग्रेस बीजेपी की सत्ता की राह में रोड़े बनकर खड़ी हो गई है। गुलाम नबी आजाद और अशोक गहलोत ने कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात की और पूरी राजनीतिक हालत पर चर्चा की। इसके बाद जेडीएस को समर्थन देने का ऐलान कर दिया।

कांग्रेस ने जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाने का दांव चलकर बीजेपी को बैकफुट पर ला दिया है। क्योंकि कांग्रेस 78 और जेडीएस 38 सीटों के साथ बहुमत के आंकड़े से भी आगे दिख रही है। गुलाम नबी आजाद ने पत्रकारों को बताया कि उनकी देवगौड़ा और उनके बेटे कुमारस्वामी दोनों के साथ फोन पर बात हुई है। उन्होंने बताया कि जेडीएस ने इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है। आजाद ने कहा कि जेडीएस सरकार चलाएगी। इसके बाद गर्वनर से मिलकर दोनों नेताओं ने सरकार बनाने दावा पेश किया है।