ओवरब्रिज का बीम गिरने से 15 की मौत, 4 अफसर सस्पेंड

  By : Priyambada | May 16, 2018

नई दिल्ली: बनारस के कैंट स्टेशन के करीब निर्माणाधीन ओवरब्रिज के गिरने की वजह से 18  लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। रेस्क्यू आपरेशन के दौरान मलबे में दबे 3 लोगों की जान बचा ली गई जबकि 7 घायलों में से 2 की हालत गंभीर बनी हुई है। फ़्लाईओवर बना रही एजेंसी सेतु निगम के 4 अफ़सरों को सस्पेंड कर दिया गया है। सीएम योगी ने हादसे की जांच के लिए एक कमेटी बना दी है और 48 घंटे में घटना की रिपोर्ट मांगी है। बीती रात ही योगी इस हादसे में घायल हुए लोगों से मिलने वाराणसी के अस्पताल पहुंचे थे। राज्य सरकार ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के लिए 5 लाख रुपये और घायलों के लिए 2 लाख रुपये का मुआवजा देने का एलान किया है।

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में ये हादसा उस वक्त हुआ जब निर्माणाधीन ओवरब्रिज के नीचे करीब शाम 5.20 बजे लोग जाम मे फंसे हुए थे। उसी दौरान ओवरब्रिज गिर पड़ा। ये हादसा इतना भयानक था कि किसी ​के बच पाने की सम्भावना न के बराबर थी। हादसे का कारण उत्तर प्रदेश सेतु निर्माण निगम द्वारा बरती गई लापरवाही को बताया जा रहा है। बता दे कि ट्रैफिक डायवर्जन किए बिना ही यहां पर पुल का निर्माण जारी था।

इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा ”वाराणसी में एक निर्माणाधीन फ्लाईओवर के गिरने के कारण जीवन की हानि से बेहद दुख हुआ। ‘मैं प्रार्थना करता हूं कि घायल जल्द ही ठीक हो जाएं। अधिकारियों को प्रभावित लोगों को सभी संभव सहायता सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है।

साथ ही सीएम योगी ने भी इस हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट में लिखा’ वाराणसी में कैण्ट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन पुल के एक हिस्से के गिरने की दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा दुःख हुआ। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति एवं परिजनों को संबल देने की प्रार्थना करता हूँ।