मंगलसूत्र बेचकर बनवाया शौचालय

  By : Team Khabare | November 23, 2017 2:00 pm
toilet

पटना। जहां सोच वहां शौचालय… इस कथन को पुर्णतया सत्य साबित किया है बिहार की एक महिला ने और पति के विरोध के बावजूद ठोस कदम उठाकर उसने सबके सामने ऐसी नजीर पेश की है जिसे जानकर हर कोई उसे शाबाशी देगा। जी हां, बीहार की रहने वाली रुनकी देवी ने अपने सुहाग की निशानी को बेचकर घर में शौचालय का निर्माण करवाया है।

आपको बता दें कि, बिहार की राजधानी पटना के पास ही वरुना गांव की रहने वाली रुनका देवी के घर में शौचालय नहीं था। रुनका देवी के घर में उनके पति परसुराम पासवान के अलावा उनकी बेटियां भी रहती हैं। लेकिन घर में शौचालय न होने के कारण उन्हें अल सुबह घर से बाहर जाना पड़ता था और ये स्थिती दिन प्रतदिन विकट होती जा रही थी।

रुनका देवी ने अपने पति से कई मर्तबा कहा कि वो घर में एक शौचालय बनवा दें लेकिन वो इस बात को सीरे से खारिज कर देता था। हर रोज होने वाली परेशानी से तंग आकर रुनका देवी ने घर में शौचालय बनवाने का फैसला किया। इसके लिए उन्होनें गांव में सरकारी योजनाओं का पता किया।

घर में शौचालय बनवाने के लिए रुनका देवी को लगभग 15 हजार रुपयों की जरुरत थी। इसके लिए रुनका ने अपना मंगलसूत्र बेचा जिसके बाद उन्हें महज 9 हजारु रुपये ही मिले। पैसों की जरूरत को देखते हुए रुनका ने अपने कान का झुमका भी बेच दिया फिर उन्हें लगभग 4 हजार रुपये मिले। हाथ में 13 हजार रुपये लेकर रुनका ने शौचालय बनवाने का काम शुरू कर दिया।

रुनका बताती हैं कि, पहले ये मुझे मुश्किल लग रहा था लेकिन अब इरादा बना लिया था तो मेरी मुश्किलें आसान होती चली गयीं। उन्होनें बताया कि, जब घर में शौचालय बनवाने के लिए जब सामान आना शुरू हुआ तो पहले तो उनके पति उनसे खफा हुये। लेकिन जब उनकी बेटियों ने भी उनका साथ दिया तो उनके पति की नाराजगी दूर हो गयी।

रुनका के इस बेहतरीन फैसले की तारीफ हर जगह हो रही है इसके लिए उन्हें ब्लॉक अधिकारी ने सम्मानित भी किया है। इसके अलावा उनके नाम को राज्य सरकार के पास भी भेजा गया है ताकि सरकार की तरफ से भी उन्हें सम्मानित किया जा सके।