सान्वी खेलेगी राष्ट्रीय यू-7 ओपन गर्ल्स शतरंज चैम्पियनशिप

  By : Bankatesh Kumar | July 28, 2018 5:21 pm

नई दिल्ली। चाहे पढ़ाई लिखाई हो या फिर खेल-कूद का मैदान लड़कियां आज हर क्षेत्र में अव्वल हैं। चेस बोर्ड की चैम्पियनशिप में ऐसा ही कुछ कारनाम कर दिखाया है कि चंडीगढ़ की रहने वाली चार वर्षीय सान्वी अग्रवाल ने। इतनी छोटी उम्र में सान्वी ने कई चेस प्रतियोगिता में भाग लिया है। इनमें से कईयों में उसने परचम लहराया।  फिलहाल सान्वी चंडीगढ़ स्थित  बाल विहार स्कूल में पढ़ती है। अग्रवा पढ़ाई के साथ-साथ चेस बोर्ड की दिग्गज खिलाड़ी भी है। अभी हाल ही में होने वाला 32वां राष्ट्रीय यू -7 ओपन गर्ल्स शतरंज चैम्पियनशिप के लिए सान्वी का चयन हो गया है। खेल में हिस्सा लेने के लिए वह कर्नाटक पहुंच गई है।

बता दें कि सान्वी का  साल 201 9 में होने वाली एशियाई युवा यू -6 शतरंज चैम्पियनशिप के लिए चयन हो गया है।  इस मुकाम तक पहुंचने के लिए उसने अंडर -5 श्रेणी के टेस्ट में दूसरा स्थान पाकर  क्वालीफाई  किया है। इससे पहले सान्वी ने चंडीगढ़ में आयोजित गर्ल्स शतरंज चैंपियनशिप  यू -7 श्रेणी में खिताब जीता था।

एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान सान्वी ने कहा कि उन्हें शतरंज खेलना उनके परिजन सीखाते हैं। साथ ही कंप्यूटर में अभ्यास कराते हैं। कुछ ही समय में शतरंज के सारे लेवल को सीखा और फिर जीतना शुरु कर दिया। सान्वी के कोच नीतिन राठौर ने कहा कि वह शतरंज में एशियाई और विश्वस्तरिय जीत हासिल करने की क्षमता रखती है। साथ ही वह भविष्य में शतरंज के खेल में एशिया और विश्व के नंबर वन खिलाड़ी का खिताब भी अपने नाम कर सकती है। गौरतलब है कि 32वां राष्ट्रीय यू -7 ओपन गर्ल्स शतरंज चैम्पियनशिप को यूनाइटेड कर्नाटक शतरंज एसोसिएशन ने आयू सीमा के साथ आयोजित किया है।