9वीं के छात्र ने बनाए 3 ऐप्स, Google ने की तारीफ

  By : Bankatesh Kumar | June 28, 2018
google app, aryan raj, internet
पटना। पटना के एक 14 वर्षीय बच्चे ने तीन शानदार ऐप बनाया है। जिसकी खुद गूगल ने भी तारीफ की है। गूगल के रिसर्च सेंटर में उसे बेहतरीन पाया गया है। जिसके बाद गूगल ने आर्यन को दो लाख रुपये का पुरस्कार भी दिया है। गूगल उसके एेप की काफी सराहना भी कर रहा है।
बता दें कि आर्यन के पिता संजीत सिन्हा पुलिस विभाग में दरोगा हैं। अपनी छोटी उम्र में आर्यन ने एक और दरियादिली का काम किया है। उसने गूगल द्वारा मिलने वाले पुरस्कार की राशि को लेने से इंकार कर दिया है। साथ ही गूगल से आग्रह किया है कि इस राशि को उन बच्चों को दिया जाय, जो गरीबी के कारण पढ़ नही पातें हैं। आर्यन की इस सोच औऱ अच्छी विचारधारा की खूब चर्चा हो रही।
आर्यन पटना के सेंट माइकल दीघा स्कूल में नौवीं के छात्र हैं। उसने गर्मी की छुट्टियों के दौरान ये तीन मोबाइल ऐप शॉर्ट कट, कम्प्यूटर शॉर्ट कट और वाट्सएप क्लीनर लाइट बनाया। तीनों एप को पेटेन्ट कराकर गूगल प्ले स्टोर पर अपलोड करने के लिए गूगल को भेज दिया। गूगल जांच में भी तीनों ऐप पास हो गया है। गूगल ने भी उसे अच्छे और कारगर माना। गूगल ने तीनों ऐप को प्ले स्टोर में अपलोड कर दिया है। जबकि पहले ही माह आर्यन के ऐप को दस हजार से ज्यादा लोगों ने डाउनलोड किया है।
ऐप की खासियत 
– मोबाइल और कंप्यूटर शॉर्टकट ऐप:  इन दोनों ऐप का काम है कि जब इंटरनेट चलाया जाये तो किसी भी तरह के मॉलवेयर और वायरस को सिस्टम में नहीं आने देगा।
– वाट्सएप क्लीनर लाइट ऐप: यह वाट्सएप के बैकग्राउंड का रंग बदल देता है। साथ ही फोटो और वीडियो के माध्यम से किसी प्रकार के वायरस का प्रवेश रोकता है।
आर्यन राज कक्षा दो से ही कंप्यूटर चलाने के शौकीन थे। संजीत सिन्हा कहते हैं कि बेटा इंजीनियर बनना चाहता है। पूर्व में आर्यन ने बिहार पुलिस को लेकर एक एप बनाया था, जो सफल नहीं हो सका।