इतिहास रचने से चूक गईं सिंधु, फाइनल में मिली हार

  By : Shubham Srivastawa | August 5, 2018
bwf-badminton-world-championship-2018-women-single-final- Japan

नई दिल्ली। बैडमिंटन वर्ल्ड चैंपियनशिप 2018  टूर्नामेंट में खेले गये महिला एकल वर्ग फ़ाइनल में कैरोलिना मारिन ने विश्व के तीसरे नंबर की ख़िलाड़ी पीबी सिंधु को हराकर विश्व विजेता का खिताब अपने नाम कर लिया है। इस बार सिंधु को सिल्वर मैडल से ही संतोष करना पड़ा जबकि कैरोलिना मारिन ने गोल्ड मेडल हासिल करते हुए इतिहास रचा है।

दरअसल, शनिवार को बैडमिंटन वर्ल्ड चैंपियनशिप 2018  टूर्नामेंट में खेले गये सेमीफाइनल मुकाबले में सिंधु ने जापान की अकाने यामागुची को 21-16, 24-22 से हराकर फाइनल में जगह बनाई। लेकिन फ़ाइनल मुकाबले में कैरोलिना मारिन ने सिंधु को हराकर विश्वकप अपने नाम किया है। बता दें कि मैच जब शुरू हुआ तो, सिंधु के खाते में 15 प्वाइंट आ चुके थे हालांकि, कैरोलिना भी 15 अंक पर थीं। तभी कैरोलिन मारिन की एक शानदार शॉट ने सिंधु से आगे कर दिया और सिंधु लगातार मुकाबले में पिछड़ती चली गईं। इस तरह कैरोलिना ने पहले गेम का मुकाबला जीत लिया।

दूसरे गेम का मुकाबला शुरू हुआ तो कैरोलिना मारिन ने लगातार एक से बढ़कर एक शॉट खेलते हुए सिंधु को बिना खाता खोले पांच प्वाइंट हासिल कर लिया। उस समय तक स्कोर 5-0 पर था तभी सिंधु ने एक अंक हासिल करते हुए स्कोर 5-1 कर दिया। लेकिन कैरोलिना मारिन लगातार पीवी सिंधु पर हावी रही और तुरंत सिंधु से 2 अंक आगे निकल गयीं जिसके स्कोर 7-1 हो गया। इसके बाद खेल बेहद रोमांचक हो गया और दोनों ख़िलाड़ी ताबड़तोड़ एक दुसरे से आगे पीछे होते रहे लेकिन अंत में कैरोलिना मारिन ने पीवी सिंधु को 21-10 से हरा दिया। बता दें कि मारिन ने दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में चीन की बिंगजियाओ को तीन गेम तक चले मुकाबले में 13-21, 21-16, 21-13 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया था।