SC ने मंजूर की तलवार दंपत्ति की रिहाई के खिलाफ अपील

  By : Bhagya Sri Singh | August 10, 2018 1:08 pm
arushi murder case, sc cbi appeal against talwars, suprem court arushi murder case, supreme court, nupur talwar, rajesh talwar

नई दिल्ली। आरुषि-हेमराज हत्याकांड में इलाहाबाद हाईकोर्ट से क्लीनचिट मिलने के बाद एक बार फिर तलवार दंपत्ति की मुसीबतें बढ़ सकती हैं। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने इस हत्याकांड को लेकर तलवार दंपत्ति की रिहाई के खिलाफ सर्वोच्च अदालत में याचिका दाखिल की थी। सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई की इस अपील को मंजूर कर लिया है। इलाहाबाद हाईकोर्ट इस मामले की सुनवाई कर रहा था। सीबीआई अदालत में तलवार दंपत्ति के खिलाफ ठोस सबूत पेश नहीं कर पायी थी जिसे लेकर अदालत ने सीबीआई को जमकर लताड़ लगायी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सबूतों के अभाव में तलवार दंपत्ति को रिहा कर दिया था।

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई की अपील को मंजूर करते हुए कहा कि अदालत तलवार दंपत्ति के घरेलू सहायक हेमराज की पत्नी की अपील पर सुनवाई करेगी।  इसके साथ ही सर्वोच्च न्यायालय ने आरुषी हत्याकांड में संदिग्ध डॉक्टर राजेश तलवार और उनकी पत्नी नुपुर तलवार  के खिलाफ भी नोटिस जारी कर दिया है।

बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट की बेंच ने आरुषी हत्याकांड के मुख्य आरोपी डॉक्टर राजेश और उनकी पत्नी नूपुर को उनकी बेटी आरुषि और घरेलू नौकर हेमराज की हत्या के मामले में सबूतों के अभाव में 12 अक्टूबर, 2016 को बरी कर दिया था।  सीबीआई का कहना था कि आरुषी की हत्या उसके माता पिता ने ही की है क्योंकि आरुषी के घरेलू नौकर हेमराज के साथ अनैतिक सम्बन्ध थे। लेकिन सीबीआई इस मामले में पर्याप्त सबूत नहीं जुटा पायी थी। अदालत ने सुनवाई के दौरान सीबीआई की इस कमी की तरफ इशारा किया था।