मक्का मस्जिद विस्फोट: असीमानंद सहित पांच आरोपी बरी

  By : Bankatesh Kumar | April 16, 2018
hyderabad, mecca masjid, mecca mosque explosion, decision, decision to come today, हैदराबाद, मक्का मस्जिद,मक्का मस्जिद विस्फोट, फैसला, आज आएगा फैसला

नई दिल्ली। मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में आज हैदराबाद एनआइए की विशेष अदालत ने फैसला सुना दिया है। अदालत ने असीमानंद सहित सभी पांच आरोपियों का बरी कर दिया है। जानकारी के मुताबिक एनआईए ने इस केस में आरोपियों के खिलाफ एक भी सबूत पेश नहीं कर पाई, जिसके चलते कोर्ट ने सभी को बरी कर दिया।

दरअसल मक्का मस्जिद मामले में सीबीआई ने सबसे पहले 2010 में आसीमानंद को गिफ्तार किया था लेकिन 2017 में उन्हें जमानत मिल गई थी। बता दें कि यह यह घटना 18 मई, 2007 को हुई थी। एनआईए मामलों की चतुर्थ अतिरिक्त मेट्रोपोलिटन सत्र सह विशेष अदालत ने सुनवाई पूरी कर ली थी। पिछले सप्ताह फैसले की सुनवाई सोमवार तक के लिए टाल दी थी। स्थानीय पुलिस की शुरुआती छानबीन के बाद मामला सीबीआइ को स्थानांतरित कर दिया गया था। सीबीआई ने आरोपपत्र भी दाखिल किया। इसके बाद 2011 में सीबीआई से यह मामला एनआइए को सौंप दिया गया।

मक्का मस्जिद मामले में  हैदराबाद की अदालत ने अब तक 222 गवाहों से पूछताछ की है। जांच के बाद इस घटना को लेकर दस लोगों को आरोपी बनाया गया है। इसमें अभिनव भारत के सभी सदस्य शामिल हैं। स्वामी असीमानंद सहित, देवेन्द्र गुप्ता, लोकेश शर्मा उर्फ अजय तिवारी, लक्ष्मण दास महाराज, मोहनलाल रतेश्वर और राजेंद्र चौधरी को मामले में आरोपी घोषित किया गया था। दो आरोपी रामचंद्र कालसांगरा और संदीप डांगे अब भी फरार है।

वहीं  एक प्रमुख अभियुक्त और आरएसएस के कार्यवाहक सुनील जोशी को जांच के दौरान ही गोली मार दी गई थी। बता दें कि इनमें से 54 गवाह अब गवाही से मुकर गए हैं। बाद में अप्रैल 2011 में इस केस को एनआईए को सौंप दिया गया था।