देश के वो 10 बाजार जहां हर रोज सजती है जिस्म की मंडी

By Team Khabare Dec 7, 2017 3:18 pm


अश्विनी ‘सत्यदेव’

देह व्यापार, वेश्वावृत्ति, जिस्मफरोशी इस बाजार को कई नामों से जाना जाता है। ऐसा माना जाता है कि, देह व्यापार आज से नहीं बल्कि प्रचीन काल से देश में विध्यमान है। जब शाम ढ़लती है तो इस बाजार की चमक बढ़ जाती है। सज धज के वेश्याएं इस बाजार की रौनक बढ़ा देती है और भीतर से काला लेकिन ऊपर से चमकीला बाजार जिस्म के भूखों को अपनी ओर खिचने लगता है। देश में कई जगहों पर ये बाजार धड़ल्ले से चल रहा है और इस धंधे को 1956 में पीटा कानून में संसोधन करके अब इसे कानूनी वैधता भी दे दी गई है। तो आइये आज हम आपको देश के उन 10 बाजारों के बारे में बताते हैं जहां हर पल होता है जिस्म का सौदा।

1. दिल्ली: जीबी रोड़

देश की राजधानी दिल्ली में जीबी रोड़ जिस्मफरोशी का सबसे बड़ा बाजार है। वैसे तो आज कल ये बाजार उठकर सड़कों पर आ गया है दिल्ली की सड़कों पर हर रात जिस्म की मंडी लगती है, और पारखी सौदागर उनका सौदा भी करते हैं। लेकिन जीबी रोड जिसका पूरा नाम गारस्टिन बास्टिन रोड़ काफी पुरानी रेड़ लाईट एरिया है। बताया जाता है कि यहां पर मुगलकाल से ही कोठे बने हुए थें। आज भी यहां पर अलग अलग नंबरों से कोठे हैं ​जहां पर हजारों वेश्याएं हर रोज जिस्म का सौदा करती हैं। यहां के बारे में एक बात और प्रचलित है कि, यहां के कुछ कोठों पर जिस्मफरोशी के साथ साथ लोगों से लूट पाट भी होती है।

2. कोलकाता: सोनागाछी

कोलकाता देश के पुराने बड़े शहरों में से एक है। यहां पर एशिया का सबसे बड़ा रेड लाइट एरिया सोनागाछी है। बहुमंजिली इमारतों में हर रोज यहां देह व्यापार का बाजार सजता है ऐसा माना हाता है कि, यहां पर लगभग 12 हजार से भी ज्यादा वेश्याएं देह व्यापार में संलिप्त हैं। यहां पर देश के हर कोने से आयी वेश्यायें अपना जिस्म बेचकर जीविका चलाती है। इसके अलावा यहां पर कई लाइसेंसी वेश्याएं भी हैं जिन्हें बाकायदा इस व्यापार के लिए लाइसेंस भी दिया गया है।

3. मुंबई: कमाठीपुरा

देश की वाणिज्यिक नगरी मुंबई में देश का दूसरा सबसे बड़ा रेड लाइट एरिया है। मुंबई के कमाठीपुरा में काफी लंबे अर्से से देह व्यापार होता है। बताया जाता है कि, अंग्रेजों के समय से ही यहां पर कोठे बन गये थें और जिस्मफरोशी का बाजार सज गया था। उस दौर में अंग्रेजों के बड़े अफसर भी यहां आया करते थें। अंग्रेजों के बाद मुंबई के पुराने डॉन हाजी मस्तान और दाऊद इब्राहिम का भी यहां आना जाना हुआ करता था।

4. पुणे: बुधवार पेठ

देश के दक्षिणी छोर में बसा ये शहर भी जिस्मफरोशी के लिए खासा मशहूर है, यहां पर देश का तीसरा सबसे बड़ा रेड लाइट ऐरिया है जिसे बुधवार पेठ के नाम से जाना जाता है। यहां दिन के समय दुकाने लगती है और शाम होते ही ये बाजार कोठों में तब्दील हो जाता है। बताया जाता है कि, यहां पर लगभग 7 हजार सेक्स वर्कर हैं और तकरीबन 400 कोठे हैं।

5. ग्वालियर: रेशमपुरा

मध्यप्रदेश के नामी शहर ग्वालियर में भी जिस्म की मंंडी लगती है। यहां का रेशमपुरा इलाका देह व्यापार के लिए खासा मशहूर है। यहां पर ने केवल पुरानी वेश्वाओं का जमावड़ा लगता है बल्कि आज कल के ग्राहकों के अनुसार कॉलेज की लड़कियां और मॉडल्स को भी इस धंधे में पाया जाता है। इन कॉल गर्ल्स को फोन के द्वारा सूचना दी जाती है और ये कोठे के बाहर भी सर्विस देने को तैयार रहती हैं।

6. इलाबाद: मीरगंज

संगम नगरी इलाहाबाद में भी जिस्म का बाजार सजता है, यहां पर लगभग ढेड़ सौ साल पुराना जिस्म का बाजार मीरगंज इलाके में है। बताया जाता है कि, राजा महाराजा के जमाने से यहां पर कोठे सजते हैं और मुजरा होता है। आपको बता दें कि, ये एक गैर कानूनी बाजार है और यहां पर कई अन्य तरह की वारदाते भी सुनने को मिलती है।

7. वाराणसी: शिवदासपुर

दुनिया के सबसे प्राचीन शहर वाराणसी में उत्तर प्रदेश का सबसे बड़ा रेड लाइट एरिया है। ये बाजार वाराणसी रेलवे स्टेशन से महज 3 किलोमीटर दूर शिवदासपुर में है। यहां पर भी बहुत पहले से मुजरों के शौकिन पहुंचते थें और आज भी यहां पर वेश्याएं सज धज कर गलियों में खड़ी रहती है और हर आने जाने वालों को रिझाती हैं।

8. नागपुर: गंगा जमुना

महाराष्ट्र का मशहूर शहर नागपुर भी जिस्मफरोशी के इस धंधे से अछूता नहीं है। यहां पर गंगा जमुना इलाके में धडल्ले से देह व्यापार चलता है। यहां पर भी हजारों की संख्या में सेक्स वर्कर हैं जो हर रोज जिस्म का सौदा करती हैं।

9. मुजफ्फरपुर: चतुरभुज स्‍थान

बिहार का मशहूर शहर मुजफ्फरपुर कई मायनों में मशहूर है। अपनी ऐतिहासिक विरासत के साथ साथ यह शहर देश के प्रमुख देह व्यापार के अड्डे के लिए जाना जाता है। यहां पर चतुर्भुज स्थान इलाका रेड लाइट एरिया है। जिस्म के बाजार के पास ही एक मंदिर भी है जो एक लंबे अर्से से चल रहा है।

10. मेरठ: कबाड़ी बाजार

उत्तर प्रदेश के पश्चिम में बस ये शहर मेरठ का कबाड़ी बाजार जिस्म के सौदागरों का सबसे प्रिय और पुराना बाजार है। बताया जाता है कि, यहां पर देह व्यापार अंग्रेजों के जमाने से चल रहा है और आज भी उसी तरह ये बाजार रौशन है। यहां पर देह व्यापार में ज्यादातर नेपाली लड़कियां संलिप्त हैं।

रिलेटेड पोस्ट