US-भारत के बीच एतिहासिक 2+2 वार्ता शुरू

  By : Rahul Tripathi | September 6, 2018 1:57 pm

नई दिल्ली। भारत-अमेरिका के विदेश और रक्षा मंत्रियों के बीच प्रस्तावित पहली 2+2 वार्ता बृहस्पतिवार को प्रारम्भ हो चुकी है। वार्ता में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय राजनयिक और रक्षा क्षेत्र में सहभागिता बढ़ाने को लेकर चर्चा होगी। साथ ही अन्य कई रणनीतिक मद्दों पर बातचीत होने की संभावना है। भारत द्वारा रूस से खरीदे जा रहे S-400 मिसाइल रक्षा प्रणाली और ईरान से तेल खरीद को लेकर भी वार्ता होगी।

वार्ता में अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री जिम मैटिस के साथ भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वाराज और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण हिस्सा ले रही हैं। पोम्पियो ने इस वार्ता को लेकर कल जारी बयान में कहा था कि भारत द्वारा रूस से खरीदे जा रहे मिसाइल रक्षा प्रणाली और ईरान से तेल आयात जैसे मुद्दे पर वार्ता तो जरूर होगी लेकिन वार्ता केवल इन्हीं पर केन्द्रित नहीं होगी।

पिछले दिनों अमेरिकी अधिकारी के हवाले से खबर आई थी कि भारत द्वारा रूस से खरीदे जा रहे मिसाइल रक्षा प्रणाली अमेरिका के लिए एक बड़ी चिंता है। ऐसे में भारत को अमेरिका से मिलने वाली छूट की कोई गारंटी नहीं होगी। लेकिन पोम्पियो के कल के बयान के बाद ऐसा माना जा रहा है कि इस पर कोई सहमति बन जाएगी। भारत रूस से दुनिया के सबसे आधुनिक हवाई रक्षा प्रणाली एस-400 खरीद रहा है। भारत ने स्पष्ट कर दिया है कि वह रूस और ईरान से अपने रिश्ते खत्म नहीं करेगा।

विदेश मंत्री पोम्पियो ने कहा कि करीब 12 ऐसे मुद्दे हैं जिनपर अमेरिका वार्ता करना चाहेगा। ये मुद्दे दोनों देशों के संबंधों के हिसाब से काफी महत्वपूर्ण हैं। उनका मानना है कि रणनीतिक संबंधों पर यह वार्ता अधिक महत्व रखती है। अन्य मुद्दों पर सहमति इस वार्ता के लिए आवश्यक नहीं है। उन्होंने कहा है कि वे और रक्षा मंत्री मैटिस वार्ता में बड़े और रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा करेंगे। जिसका महत्व आने वाले समय में 20, 40 और 50 सालों तक रहेगा।