राजस्थान की छवि खराब कर रहा है क्राइम, कब लगेगा अंकुश ?

  By : Team Khabare | September 20, 2017 2:40 pm

“देवेंद्र शर्मा” (दिल्ली)

राजस्थान अभी इन दिनों अपराध,प्रदर्शन जैसी कई घटनाओं की वजह से सुर्खियों में चल रहा है। हाल ही में घटी तीन बड़ी घटनाओं ने राजस्थान की छवि को बहुत ही ज्यादा खराब किया है।

-जयपुर के रामगंज में झगड़ा, बंद रहा था जयपुर…

-जोधपुर में दिनदहाड़े व्यापारी की हत्या कर दी गई…

-सीकर के अजीतगढ़ कस्बे में छात्रा से किया दुष्कर्म…

जयपुर क्राइम:
राजस्थान के जयपुर जिले में स्थित रामगंज इलाके में एक छोटी सी बात ने इतना बड़ा झगड़ा पैदा कर दिया कि कुछ दिनों के लिए जयपुर बंद भी रहा यानी गुलाबी नगरी कुछ दिनों तक खाकी के रंग में दिखाई दी। अतिक्रमण हटाने की पुलिस कार्रवाई कर रही थी उस दौरान पुलिस का डंडा वहां से निकल रहे बाइक सवार दंपति के लग गया और उनके कुछ चोट भी आई। बताया जा रहा है कि बाइक सवार दंपति ने उनसे इस बारे में बात की तो पुलिस के अड़ियल रवैए के कारण उन्हें धक्का दे दिया। वहां मौजूद कई लोगों ने इस घटना को देखते हुए पुलिस पर हमला बोल दिया। झगड़ा इतना बढ़ गया की आगजनी,पत्थरबाजी और फायरिंग की भी नौबत आ गई। झगड़े के दौरान एक व्यक्ति की मौत हुई और कई पुलिसकर्मी भी घायल हुए थे। झगड़ा इतना बढ़ गया था कि शांत होने का नाम ही नहीं ले रहा था। घटनास्थल पर पहुंचकर कलेक्टर और पुलिस कमिश्नर को ​आक्रोशित लोगों से बातचीत करनी पड़ी थी। लेकिन मामला शांत होने का कोई नाम भी नहीं ले रहा था। समुदाय विशेष का आक्रोश बढ़ता ही जा रहा था। मामले को शांत करने के लिए प्रशासन ने इलाके में जरूरत से ज्यादा फोर्स तैनात की और दो दिनों तक इंटरनेट की सेवा भी बंद रखी। ताकि मामले को और उग्र ना होने दिया जाए।

आखिरकार सरकार को इस मामले में हस्तक्षेप ही करना पड़ा और सरकार ने एक मंत्री को समुदाय विशेष के आक्रोशित लोगों से वार्ता के लिए भेजा। वार्ता के दौरान कई मुद्दों पर सहमति नहीं बनी और पहले दौर की वार्ता विफल रही। जब दोबारा वार्ता की गई तो उसमें पीड़ित पक्ष को मुआवजा और सरकारी नौकरी की बात पर सहमति बनी। तब जाकर कुछ दिनों बाद जयपुर में दोबारा रौनक लौटी।

जोधपुर क्राइम:
जोधपुर में कुछ दिनों पहले एक व्यापारी की अज्ञात बदमाशों के द्वारा हत्या कर दी गई थी। इस घटना को लेकर इलाके के व्यापारियों में जबरदस्त रोष रहा और जोधपुर भी बंद रहा। बताया जा रहा है व्यापारी अपने मेडिकल स्टोर में बैठे थे उसी दौरान उनकी हत्या कर दी गई। इस हत्या मामले की कमान भी जोधपुर पुलिस कमिश्नर ने संभाली थी। जोधपुर हाईकोर्ट में इस मामले की सुनवाई हुई और वहां जोधपुर पुलिस कमिश्नर को तलब किया गया। व्यापारी की हत्या पर न्यायाधीश गोविंद माथुर और न्यायाधीश विनीत कुमार ने पुलिस और सरकार के कामकाज पर बेहद सख्त टिप्पणी करते हुए कहा,यदि हम पुलिस कमिश्नर होते तो अभी तक इस्तीफा दे दिया होता। या तो पुलिस नाकारा है या फिर अपराधियों से पुलिस की मिलीभगत है।

न्यायाधीशों की इस टिप्पणी से आप अंदाज लगा सकते हैं कि राजस्थान में पुलिस की कार्यप्रणाली ​किस तरह से चल रही है। जब इन अफसरों से फीडबैक मांगा जाता है तो इनकी रिपोर्ट में क्राइम जीरो के बराबर होता है।

सीकर क्राइम:
दो दिन पहले शिक्षा के मंदिर में घटी इस घटना ने सभी के हौश उड़ा दिए। स्कूल के ही मालिक और टीचर ने मिलकर 12वीं की छात्रा से दुष्कर्म किया। बताया जा रहा है कि अतिरिक्त क्लास के बहाने छात्रा को बुलाया जाता था और बारी बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया जाता था। छात्रा के गर्भवती होने पर आरोपी उसका इलाके में चल रही फर्जी क्लिनिक में ले जा कर अबॉर्शन करवा देते थे। बताया जा रहा है कि आरोपी पहले भी पीड़िता का गर्भपात करवा चुके हैं। मामले का खुलासा तब हुआ जब पी​ड़ित छात्रा की तबीयत ज्यादा बिगड़ गई।

बताया जा रहा है कि आरोपी इसी फर्जी क्लिनिक में छात्रा का अबॉर्शन करवाने आए थे वहां उसकी तबीयत ज्यादा खराब हुई और ब्लड रुकने का नाम नहीं ले रहा था घबराए आरोपित डॉक्टर ने छात्रा को जयपुर रैफर कर दिया। जयपुर रैफर करने पर जयपुर के डॉक्टरों ने इस घटना की पुलिस को सूचना दी। जयपुर के डॉक्टरों की वजह से इस घटना का पता चला। पुलिस ने मामला दर्ज कर इस केस में जांच शुरू की और त्वरित कार्रवाई करते हुए दोनों आरोपी स्कूल मालिक और टीचर को गिरफ्तार कर लिया।

गौरतलब है कि राजस्थान में अगले वर्ष नवम्बर में विधानसभा चुनाव होने हैं लेकिन इससे पहले भाजपा सरकार को इसी वर्ष होने वाले दो लोकसभा (अजमेर और अलवर) और वहीं एक विधानसभा का (भीलवाड़ा के माडलगढ़) के उपचुनाव का सामना करना पड़ेगा। लोगों का कहना है कि इन तीनों सीटों को जीतने के लिए सरकार को कड़ी मशक्कत करनी पड़ेगी। जहां सरकार की उपलब्धियां सामने आने चाहिए वहां दुष्कर्म,हत्या,दंगा और किसान प्रदर्शन जैसी कई घटनाएं सामने आ रही है।