CISF ने बच्ची को पेरेंट्स से मिलवाया, एयरपोर्ट में गए थे भूल

  By : Bhagya Sri Singh | May 16, 2018

नई दिल्ली। CISF की पहल से एक बच्ची अपने माता-पिता से हमेशा के लिए बिछड़ने से बच गई। CISF ने एयरपोर्ट पर बच्ची को रोते हुए देखा तो उससे पूछताछ की। बच्ची ने रोते हुए बताया कि उसके माता पिता नहीं मिल रहे हैं। जिसपर CISF ने CCTV कैमरे की फुटेज खंगालनी शुरू की। बच्ची ने फुटेज में टर्मिनल से निकलते हुए अपने माता-पिटा को पहचान लिया। CISF के जवानों ने तत्काल बच्ची के पेरेंट्स से संपर्क किया और उन्हें बच्ची सौंप दी।

CISF ने जानकारी दी कि उन्हें सोमवार रात 9.25 बजे बच्ची रोते हुए मिली। स्पाइसजेट की फ्लाइट से सुलभ भाटिया और स्नेहा भाटिया अपनी 4 साल की बेटी के साथ जयपुर से दिल्ली आये थे। कपल टर्मिनल 1 से बाहर आने के बाद लगेज कन्वीनियर बेल्ट से सामान उठाने की जल्दबाजी में अपनी बच्ची को वहीं भूल कर आगे बढ़ गए।

बच्ची को अपने माता पिता के आसपास न होने का एहसास तब हुआ जब वो दोनों टर्मिनल से बाहर निकल चुके थे। ये देखकर बच्ची रोने लगी। बच्ची को अकेले रोता देख CISF के जवान ने बच्ची से पूछा कि उसके माता पिटा कहां हैं। तो बच्ची ने बताया कि वो मिल नहीं रहे हैं। CISF ने पहले तो बच्ची के पेरेंट्स को ढूंढा लेकिन फिर CCTV फुटेज देखी जिसमें बच्ची ने अपने माता पिता को पहचान लिया।