माउंटेन मैनः पहाड़ काटकर बनाया 8 किलोमीटर लंबा रास्ता

  By : Bankatesh Kumar | January 17, 2018

नई दिल्ली। बिहार के ‘माउंटेन मैन’ दशरथ मांझी का नाम तो आपने सुना ही होगा। इनके नाम पर एक फिल्म भी बन चुकी है। ‘माउंटेन मैन’ दशरथ मांझी की तरह ही ओडिशा में भी एक शख्स ने अपनी हिम्मत और मेहनत से नामुमकिन को मुमकिन कर दिखाया है। जहां दशरथ मांझी ने केवल हथौड़ा और छेनी से अकेले ही 360 फुट लंबी 30 फुट चौड़ी सड़क बनाने के लिए 25 फुट ऊंचे पहाड़ को काट डाला था। वहीं ओडिशा के ‘माउंटेन मैन’ नाम से विख्यात शख्स ने पहाड़ काटकर 8 किलोमीटर लंबा रास्ता बनाया है। जी हां हम बात कर रहे हैं कंधमाल जिले के गुमसाही गांव के रहने वाले जालंधर नायक के बारे में। जिन्होंने 8 किलोमीटर लंबा रास्ता महज 2 साल में अकेले पहाड़ को काटकर बना दिया।

सब्जी बेचने वाले नायक का कहना है कि वह पढ़-लिख नहीं पाए। उन्होंने देखा कि उनके बच्चे दुर्गम रास्ते के चलते स्कूल नहीं जा पा रहे हैं, इस पीड़ा ने उन्हें पहाड़ को काटकर रास्ता बनाने के लिए प्रेरित किया। नायक के इस कारनामे की वजह उनके तीन बेटे हैं। कंधमाल जिले में फुलबानी कस्बे के मुख्य सड़क से अपने गांव गुमसाही को जोड़ने के लिए नायक पिछले दो साल से रोजाना आठ घंटे पत्थरों को काटते आ रहे हैं। नायक चाहते हैं कि उनके बच्चे स्कूल पहुंचने के लिए आसानी से सड़क पार कर सकें।

वहीं जालंधर की पत्नी बताती हैं कि उनके पति ऐसा इसलिए कर रहे हैं ताकि उनके परिवार को अस्पताल जाने में भी परेशानी का सामना न करना पड़े। बता दें कि जालंधर नायक का लक्ष्य इस सड़क को बढ़ाकर 15 किलोमीटर ले जाना है। इलाके के खंड विकास अधिकारी (बीडीओ) एस के जेना का कहना है कि जालंधर नायक को हर तरह की सरकारी मदद दी जाएगी। वो जहां रहते हैं वो आबादी से काफी दूर है। हमने उन्हें शहर आकर रहने को कहा था लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया है।