ऐसे करें थायरॉयड की पहचान

  By : Priyambada | August 10, 2018 12:43 pm

नई दिल्ली। थाइराइड की समस्या आजकल बहुत बढती जा रही है। आजकल की भाग दौड़ और तनाव भरी जिंदगी में कब आप किसी बिमारी की चपेट में आ आ जाते हैं, इसका पता ही नहीं चलता है।आइए आज आपको बताते है थाइराइड के शुरूआती लक्षणों के बारें जिनका ध्यान रख आप खुद का बचाव कर सकते हैं। थाइराइड गले में एंडोक्राइन ग्लैंड होती है जो तितली के आकार की एक ग्रंथी होती है। जो कि थाइराक्सिन नाम का हार्मोन बनाती है। इसके असंतुलन के कारण बॉडी के कार्य करने की कार्यप्रणाली में प्राब्लम होने लगती है। क्योंकि ये ग्रंथी शरीर में मेटाबॉलिज्म को संतुलित करने का काम करती है।

शरीर के वजन पर असर- इस रोग के शुरूआत होने पर कई हेल्थ प्राब्लम का सामना ​करना पड़ता है। सबसे पहले वजन पर असर पड़ता है। शरीर का वजन अचानक से कम या ज्यादा हो जाता है।

थकावट –थाइराइड में आराम करने के बाद भी थकान बनी रहती है। शरीर में आलस बना रहता है। इसमें शरीर की एनर्जी कम होने लगती है और काम करने में मन नहीं लगता है। और हर वक्त आराम करने का मन करता हैं।

प्रतिरोधक क्षमता –इस रोग में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है। बिना दवाइयों के छोटे-छोटे रोगों से छुटकारा पाना मुश्किल हो जाता है। आसानी से किसी भी रोग के चपेट में आने की संभावना बनी रहती है।

बालों का झड़ना –थाइराइड होने पर बाल लगातार झड़ने लगते हैं।शुरूआत में थोड़े बाल झड़ते हैं लेकिन धीरे धीरे ज्यादा बाल गिरने लगते हैं।

कब्ज की प्राब्लम- थाइराइड में कब्ज की प्राब्लम होती है। इसके अलावा पेट की और भी प्राब्लम का सामना करना पड़ता हैं। खाना आसानी से पचाने में भी प्राब्लम होती है।

स्कीन प्राब्लम –इस रोग में त्वचा की भी प्राब्लम का सामना करना पड़ता हैं। स्कीन रूखी हो जाती है। स्किन के ऊपरी हिस्से के सैल्स डैमेज होने लगते हैं।

हाथ-पैर ठंडे- थाइराइड में हाथ-पैर हमेशा ठंड़े रहने लगते हैं। शरीर का तापमान सामान्य होगा लेकिन हाथ-पैर में ठंड़े रहेंगे।