नॉर्मल डिलीवरी के लिए अपनाएं ये TIPS

  By : Bhagya Sri Singh | February 16, 2018
pregnancy

नई दिल्ली। गर्भावस्था के नौ महीने दुनिया की किसी भी महिला की जिंदगी का सबसे ख़ास और खूबसूरत समय होता है। इस दौरान महिला को चाहे जितनी थी परेशानी हो या तकलीफें उठानी पड़ें वो हर समय मुस्कुराती है। गर्भवती महिला के मन में एक नयी जिंदगी को इस दुनिया में लाने की ख़ुशी होती है।

अजन्मा बच्चा न केवल अपने मां के लिए ही बेहद ख़ास होता है बल्कि इससे महिला का अपने पति से भी सम्बन्ध मजबूत होता है। इसके साथ ही पूरा परिवार भी स्नेह की डोर से आने वाले बच्चे के साथ बंध जाता है और उसके इस दुनिया में आने का बेसब्री से इंतज़ार करता है।

देखा जाए तो बच्चे के पैदा होने के साथ ही कई नए रिश्ते भी जन्म लेते हैं। घर का हर सदस्य आने वाले नन्हें मेहमान की अगवानी की तैयारी में पूरी जोश खरोश के साथ जुट जाता है। लेकिन ज्यादातर लोग चाहते हैं कि गर्भवती की डिलीवरी नार्मल हो और ऑपरेशन का करना पड़े क्योंकि इसमें काफी रिस्क होता है। आज हम आपको बताएँगे कुछ ऐसे टिप्स जिसे गर्भावस्था काल में अपनाने से नार्मल डिलीवरी में मदद मिलेगी।
प्रेगनेंसी को समझें:

गर्भावस्था के दौरान महिला को इस बारे में पूरी जानकारी होनी आवश्यक है ताकि वो भली प्रकार एतिहात बरत सके और तकलीफ से निजात पा सके। मां की सकारात्मक ऊर्जा का असर पैदा होने वाले बच्चे पर भी पड़ता है।

एक्सरसाइज:

अगर गर्भावस्था के दौरान महिला सामान्य व्यायाम करती रहे तो इससे प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले दर्द में राहत मिलती है।
लेकिन महिलाओं को भूल कर भी भारी सामान नहीं उठाना चाहिए और भरपूर आराम भी करना चाहि।

डाइट का रहे ख़याल:

प्रेग्नेंसी के दौरान खाने-पीने को लेकर बेहद सजग रहें इस मामले में लापरवाही आपको मुश्किल में दाल सकती है। पोषक तत्वों से भरपूर आहार लें और आवश्यकता से अधिक खाना खाने का प्रयास न करें ये नुकसानदायक हो सकता है।
डिप्रेशन से बचें:

प्रेग्नेंसी के समय जितना हो सके तनाव से दूर रहने की कोशिश करें। तनाव आपकी सेहत पर काफी बुरा असर डालता है जिसका सीधा असर आपके होने वाले बच्चे पर होगा।

पानी पीती रहें:

गर्भावस्था के दौरान डिहाइड्रेशन नहीं होना चाहिए। इसके लिए अधिक से अधिक पानी पियें और फ्रूट जूस और नारियल पानी भी पी सकती हैं।