गर्भावस्था: आयरन युक्त आहार है जज्जा-बच्चा के लिए फायदेमंद

  By : Bhagya Sri Singh | August 10, 2018 3:58 pm
pregancy, pregnancy diet in hindi, pregnancy diet chart in hindi, pregnancy diet plan in hindi, iron, palak nutrition, palak ke fayde, pregnancy me iron

नई दिल्ली। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के शरीर में काफी बदलाव आते हैं। इस दौरान उनके शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा भी काफी घट जाती है, इसके चलते शरीर में खून की काफी कमी हो जाती है। ऐसे में शरीर काफी कमजोर हो जाता है। ऐसे में गर्भवती महिला को आयरन युक्त आहार ग्रहण करना चाहिए ताकि जज्जा बच्चा काफी स्वास्थ्य हों। यदि  मां के शरीर में खून की कमी होगी तो पैदा होने वाला बच्चा भी एनीमिया से ग्रसित होगा। इससे बच्चे को आये दिन कई तरह की बीमारियां होंगी और उसे कई अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानियां हो सकती हैं।

गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाओं को भोजन में पौष्टिक आहार शामिल करना चाहिए। खाने में ज़्यादातर हरी पत्तेदार सब्जियां, प्रोटीन युक्त दालों का सेवन करना चाहिए। साथ ही खून की कमी को ठीक करने के लिए डॉक्टर की सलाह से आयरन की गोलियां भी लेनी चाहिए। इससे गर्भस्थ शिशु का विकास समुचित तरीके से होता है। आइये आज हम आपको बताते हैं गर्भावस्था के दौरान आयरन युक्त आहार ग्रहण के क्या फायदे होते हैं:

– आयरन युक्त आहार जज्जा-बच्चा की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और ये मां-शिशु को कई तरह के संक्रमण से बचाता है।

– डिलीवरी के समय गर्भवती महिला के शरीर में खून की काफी आवश्यकता होती है ऐसे में आयरन इस कमी को पूरा करता है। शरीर में आयरन की सही मात्रा प्रसव के समय होने वाले खतरे की संभावना कम हो जाती है।

– गर्भावस्था के समय जब गर्भाशय में भ्रूण का विकास होता है तो उसकी मांसपेशियों के निर्माण और शरीरिक विकास में आयरन की जरूरत पड़ती है। यह महिला के शरीर से शिशु को मिलता है। बच्चे के सही विकास के लिए आयरन बहुत जरूरी होता है। इससे बच्चे के शरीर के अंगों का सही से निर्माण होता है और सामान्य ढंग से उनका विकास होता है।