पढ़िए इरफान की बीमारी न्यूरो एंडोक्राइन ट्यूमर की डिटेल्स

  By : Priyambada | March 16, 2018

नई दिल्ली: इरफान खान ने अपनी बीमारी को लेकर सोशल मीडिया पर खुलासा कर दिया है। इरफान खान को न्‍यूरो एंडोक्राइन ट्यूमर हुआ हैं। ये एक दुलर्भ बीमारी है। इरफान बीमारी के इलाज के लिए विदेश रवाना हो चुके हैं। 5 मार्च को इरफान ने अपनी बीमारी का खुलासा किया था। इरफान की बीमारी न्यूरो एंडोक्राइन ट्यूमर का ब्रेन ट्यूमर से कोई भी संबंध नहीं है। एंडोक्राइन ट्यूमर शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है, यानी हार्मोन पैदा करने वाले शरीर के हिस्सों में ये ट्यूमर होता है।

डॉक्टरों का कहना है कि इस बीमारी का इलाज गंभीर होता है। इरफान खान की बीमारी किस स्टेज पर है इसका खुलासा नहीं हो पाया है।  डॉक्टरों का कहना है कि हर ऐसा ट्यूमर कैंसर बन जाए ये जरूरी नहीं। इसका इलाज ट्यूमर के साइज और उसके जगह को ध्यान में रखकर किया जाता है, ये एक रेअर बीमारी है। न्‍यूरो एंडोक्राइन ट्यूमर शरीर के न्‍यूरो एंडोक्राइन सिस्‍टम में हार्मोन पैदा करने वाली कोशिकाओं में होता है। जो हार्मोन पैदा करने वाली एंडोक्राइन कोशिकाओं और नर्व कोशिकाओं में होता है। न्‍यूरो एंडोक्राइन शरीर के फेफड़े, गेस्‍ट्रोइनटेस्‍टाइन ट्रैक यानी पेट और इनटेस्‍टाइन में होती हैं। न्‍यूरो एंडोक्राइन ट्यूमर कई प्रकार का होता है।

डाक्टरों के अनुसार  यह बीमारी आनुवांशिक कारणों से भी होती है। परिवार में माता या पिता को यह बीमारी हुई तो उनसे उनके बच्चे को होने का खतरा रहता है। बच्चे में इस बीमारी का पता लगाने के लिए जेनेटिक टेस्ट जरूरी होता है। इसका सबसे बड़ा लक्षण लगातार डायरिया का होना होता है। अगर 20 से 25 दिनों तक लगातार दस्त आ रहे हों तो तुरंत इसकी जांच करानी चाहिए।