पद्मावत के निर्माता फिल्म रिलीज पर संकट की वजह से पहुंचे सुप्रीम कोर्ट

  By : Priyambada | January 17, 2018 11:11 am

नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली की विवादित फिल्म पद्मावत को लेकर एक नई खबर आ रही है कि इस फिल्म के निर्माता वायाकाम 18 ने अपनी फिल्म के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। दायर की गई याचिका में फिल्म मेकर्स का कहना है कि जब पद्मावत को सेंसर ने पास कर दिया है और सेंसर बोर्ड के कहने पर फिल्म में बदलाव भी कर दिए गए हैं तो ये विरोध क्यों। निर्माताओं का कहना है कि फिल्म सेंसर बोर्ड के मंजूरी के बाद ही रिलीज हो रही है तो राज्य इसमें हस्तक्षेप करने के अधिकारी नहीं है।

आपको बता दें कि फिल्म यह फिल्म सेंसर बोर्ड की मंजूरी के बाद ही रिलीज हो रही है। फिल्म में  बोर्ड के कहने पर ही 5 बड़े बदलाव किए गए हैं। फिल्म के गाने घूमर में भी बहुत बदलाव किया गया है। माना जा रहा है कि मॉर्डर्न टेक्नीक (VFX) की मदद से इस गाने में दीपिका की कमर को छुपा दिया गया है। साथ ही फिल्म में और भी बदलाव किए गए हैं। जैसे की फिल्म का नाम ‘पद्मावती’ नहीं, ‘पद्मावत’ होगा। घूमर डांस में सुधार हुआ। डिस्क्लेमर देना होगा कि यह फिल्म सती प्रथा को महिमामंडित नहीं करती।

साथ ही डिस्क्लेमर में यह भी दिया जाऐगा कि फिल्म काल्पनिक है। आपको बता दे कि भारी विरोध की वजह से इस फिल्म की रिलीज डेट भी बदल दी गई। माना जा रहा है कि फिल्म के कई राज्यों में बैन होने की वजह से इस फिल्म के निर्माता एसी पहुंचे है। बता दे कि राजस्थान, गुजरात और मध्य प्रदेश में फिल्म पर बैन लगा दिया है और मंगलवार को हरियाणा की भाजपा सरकार ने भी राज्य में फिल्म ‘पद्मावत’ की रिलीज पर रोक लगा दी है। बता दें कि फिल्म में पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच रुमानी  दृश्य को लेकर फैली अफवाहों के बाद कई राजपूत एवं अन्य संगठनों ने इतिहास से छेड़छाड़ और भावनाओं से खिलवाड़ का आरोप लगाते हुए राजस्थान सहित देश के अन्य हिस्सों में फिल्म का विरोध करना शुरू किया था। जो कि अभी जारी है। करणी सेना ने मुंबई में सेंसर बोर्ड के सामने विरोध प्रर्दशन किया था कि फिल्म का प्रदर्शन रोका जाए।