हम गायब होने वालों में से नहीं, शशि कपूर के 5 डायलॉग

By Bhagya Sri Singh Dec 4, 2017 7:13 pm

नई दिल्ली। मशहूर बॉलीवुड अभिनेता शशि कपूर का लंबी बीमारी के बाद मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में निधन हो गया। हिंदी फिल्म जगत में उनकी पहचान मशहूर रोमांटिक हीरो की है। 70 और 80 के दशक में उन्होंने बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ के साथ जिन फिल्मों में भी साथ काम किया उनकी जोड़ी जबरदस्त हिट रही। शर्मीला टैगोर के साथ 10 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। 2011 में उन्हें पद्म विभूषण सम्मान से सम्मानित किया गया। आइये आज हम आपको उनके 5 मशहूर डायलॉग बताते हैं…

1. ‘मेरे पास मां है।’ (फिल्म- दीवार)

2. ये प्रेम रोग है।  शुरू में दुःख देता है बाद में बहुत दुःख देता है।  (फिल्म- नमक हलाल)

3. जब तक एक भाई बोल रहा है, एक भाई सुन रहा है।   जब एक मुजरिम बोलेगा, एक पुलिस ऑफिसर सुनेगा।   (फिल्म- दीवार)

4. हम गायब होने वालों में से नहीं हैं…जहां जहां से गुजरते हैं अपना जलवा दिखाते हैं।  दोस्त तो क्या दुश्मन भी याद रखते हैं।  (फिल्म- सिलसिला)

5. ख्वाब जिंदगी से कई ज्यादा खूबसूरत होते हैं।  

रिलेटेड पोस्ट