पद्मावत का विरोध जारी, मध्य प्रदेश में भी बैन

  By : Priyambada | January 12, 2018

नई दिल्ली: पद्मावती से पद्मावत बनने के बाद भी संजय लीला भंसाली की इस फिल्म की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। आपको बता दे कि यह  फिल्म 25 जनवरी को रिलीज होने वाली है। भारी विरोध के चलते यह विवादित फिल्म अपने पहली डेट पर रिलीज नहीं ​हो पाई थी।

इस फिल्म को राजस्थान में पहले ही बैन कर दिया गया है।  साथ ही यह फिल्म अब मध्य प्रदेश में भी बैन हो गई है। आपको बता दे कि इस फिल्म को लेकर हिमाचल प्रदेश ने भी हाथ खड़े कर दिए है। शुरूआत से ही फिल्म का विरोध कर रही करणी सेन अपने विरोध को जारी रखे हुए है। आज यानी शुक्रवार को करणी सेना मुंबई स्थित सेंसर बोर्ड के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन और घेराव कर रही है। हिंसक विरोध प्रदर्शन की वजह से मुंबई पुलिस ने वहां  सुरक्षा बढ़ा दी हैं। आपको बता दे कि करणी सेना का आरोप है कि संजय लीला भंसाली ने इतिहास के तथ्यों के साथ छेड़छाड़ कर इस फिल्म को बनाया है। जिससे की राजपूतों की भावनाओं को ठेस पहुंची है। भाजपा के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने फिल्म की रिलीज पर कहा था कि सेंसर बोर्ड केंद्र सरकार से उपर नहीं है।

करणी सेना ने अब दिल्ली में भी पद्मावती पर बैन की मांग की है। करणी सेना का कहना है कि वो दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात कर फिल्म का प्रदर्शन रोकने की मांग करेंगे।करणी सेना के एक नेता ने कहा कि नाम बदलने से कुछ नहीं होता अगर नाम बदलने से कोई चीज बदल जाती है तो हम पेट्रोल को गंगाजल समझकर सिनेमाघरों में छिड़कर आग लगा देंगे। कुल मिला कर अभी भी इस फिल्म की रिलीज को लेकर मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही है।  गोवा पुलिस ने भी राज्य सरकार से सिफारिश की थी  कि फिल्म पद्मावत को गोवा  में  रिलीज न किया जाए। लेकिन गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर ने कहा है कि पद्मावत गोवा में रिलीज होगी।