RBI ने जारी की वार्षिक रिपोर्ट, 99.3% नोट वापस आए

  By : Rahish Khan | August 29, 2018 4:59 pm
Rbi annual report, 99.3 percent currency returned, demonetisation, banks, pm narendra modi, congress

नई दिल्ली। नोटबंदी के दो साल बाद भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने कहा कि बंद किए गए 500 और 1,000 रुपये के नोट वापस आ गए हैं। आरबीआई ने अपनी वित वर्ष 2017-18 की एनुअल रिपोर्ट बुधवार को जारी कर दी। इस रिपोर्ट में बताया गया कि 99.30 फीसदी नोट बैंकों में वापस लौट चुका है।

नोटबंदी के समय 500 और 1,000 रुपये के 15.41 लाख करोड़ रुपये के नोट चलन में थे। रिजर्व बैंक की रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें से 15.31 लाख करोड़ रुपये के नोट बैंकों के पास वापस आ चुके हैं। इसका मतलब है कि बंद नोटों में सिर्फ 10,720 करोड़ रुपये ही बैंकों के पास वापस नहीं आए हैं। इसके अलावा आरबीआई ने अपनी एनुअल रिपोर्ट में जीएसटी को सफल बताया है। उसने कहा है कि GST अप्रत्यक्ष कर में पारदर्श‍ित बरतने में नींव का पत्थर साबित हुआ है।

‘देश से माफी मांगे पीएम मोदी’

वहीं, RBI का आंकड़ा सामने आने के बाद कांग्रेस ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। कांग्रेस ने सवाल किया कि क्या पीएम मोदी इस झूठ के लिए देश की जनता से माफी मांगेंगे। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि RBI की रिपोर्ट से फिर साबित हो गया है कि नोटबंदी व्यापक स्तर की ‘मोदी मेड डिज़ास्टर’ थी। उन्होंने कहा, ‘पीएम मोदी ने वर्ष 2017 में स्वतंत्रता दिवस के अपने भाषण में दावा किया था कि 3 लाख करोड़ रुपये वापस आ रहे हैं।’ उन्होंने सवाल किया, ‘मोदी जी, क्या आप वह झूठ बोलने के लिए माफी मांगेंगे?’

8 नंवबर 2016 को हुई नोटबंदी

बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर, 2016 को 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बंद करने का ऐलान किया था। 8 नवंबर की रात से ये पुराने नोट बंद हो गए थे। इनकी जगह 500 के नए और 2,000 रुपये के नए नोट चलन में लाए गए थे। नोटबंदी के बाद से आरबीआई लगातार पुराने नोटों की गिनती करने में लगी हुई थी।