चीन में छप रहे भारतीय नोट, कई देशों ने दिया ‘ऑर्डर’: रिपोर्ट

  By : Rahish Khan | August 13, 2018 4:27 pm
China print money, many countries order, scmp report, China big orders money printing

नई दिल्ली। चीन पिछले कुछ समय से करेंसी छापने की मशीन बनता जा रहा है। एक समय था जब उसके करेंसी प्रोडक्शन प्लांट्स में नोट की जगह मैरिज सर्टिफिकेट और ड्राइविंग लाइसेंस छापे जाते थे। अब भारत समेत कई देशों ने चीन को नोट छापने का बड़ा ऑर्डर दिया है। इस बात का खुलासा साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट (एससीएमपी) ने किया है।

एससीएमपी के मुताबिक, हाल ही के वर्षों में चीन को कई देशों की ओर से करेंसी छापने के बड़े ऑर्डर मिले हैं। इनमें भारत, नेपाल, श्रीलंका,  बांग्लादेश, मलेशिया, ब्राजील और पोलैंड जैसे देशों के नाम शामिल हैं। वहीं चीन बैंक नोट प्रिंटिंग और मिंटिंग कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष ल्यू गुइसेंग ने कहा कि अभी तक चीन में विदेशी करेंसी नहीं छापी जाती थी, लेकिन कुछ समय से यह काम शुरु हो गया है।

2013 में लॉन्च किया ‘वन बेल्ट वन रोड’

दरअसल, साल 2013 में चीन ने दक्षिण पूर्व एशिया, केंद्रीय एशिया, खाड़ी क्षेत्र, अफ्रीका और यूरोप की जमीन और समुद्र को जोड़ने के लिए वन बेल्ट वन रोड परियोजना लॉन्च की थी। इसके बाद चीन को बाहरी देशों से करेंसी छापने का अच्छा-खासा ऑर्डर मिलने लगा।

थरूर ने ट्वीट कर उठाए सवाल

वहीं इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने सरकार पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने ट्वीट किया कि विदेश में नोट छापे जाने से पाकिस्तान को जाली नोट आसानी से मिल जाएंगे, जिससे राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा हो सकता है। थरूर ने कहा कि ऐसी जानकारी बाहर आने से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा हो सकता है। हालांकि कुछ देश की सरकारों ने चीन से कहा है कि इस सौदे को प्रचारित ना किया जाए।