सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण आज, भूलकर भी न करें ये काम

  By : Shubham Srivastawa | July 27, 2018 10:12 am

नई दिल्ली। आज 21वीं सदी का सबसे लंबा चंद्रग्रहण लगने वाला है। यह ग्रहण रात 11.54 से शुरू होकर अगले दिन 28 जुलाई सुबह 3.49 तक रहेगा। भारत में पूर्ण चंद्रग्रहण दिखाई देगा। इस दौरान चंद्रमा लाल रंग का दिखेगा, जिसे ब्लड मून भी कहा जाता है। वहीं चंद्रग्रहण के कारण देशभर के कई बड़े मंदिर दोपहर बाद बंद कर दिए जायेंगे। एक तरफ जहां देशभर के लोग इसे देखने के लिए उत्सुक हैं तो वहीं कुछ लोग इससे डर भी रहे हैं कि कहीं चांद की हानिकारक किरणों से आंखों को कई नुकसान ना हो। ऐसे में आइये आज हम आपको बताते हैं कि इस ग्रहण कैसे देखें।

चंद्र ग्रहण के दौरान भूलकर भी न करें ये काम

  • बता दें कि सूर्य ग्रहण की तरह आपको चंद्रग्रहण को भी चश्मों के साथ देखना चाहिए। हालांकि, आप इसे नंगी आंखों से भी देख सकते हैं।
  • वहीं चाहे तो आप खुले मैदान में भी जाकर चांद का दीदार कर सकते हैं।
  • चंद का दीदार करने के लिए आपको किसी भी तरह से खास आंखों को प्रोटेक्ट करने वाले साधन की ज़रूरत नहीं है।
  • ज्योतिषों और पंडितों की मानें तो ग्रहण लगने के समय इंसान को खुले आकाश में नहीं निकलना चाहिए। वहीं प्रेग्नेंट महिलाएं, बुजुर्ग, रोगी और बच्चों को इससे दूर रहना चाहिए। इसके अलावा इस दौरान पहले या बाद में ही खाना खाना चाहिए।

मंदिर होंगे बंद

चंद्रग्रहण लगने की वजह से बदरीनाथ और केदारनाथ मन्दिर के कपाट शुक्रवार दोपहर से शनिवार सुबह तक बन्द रहेंगे। इस दौरान मन्दिर में पूजा पाठ नहीं होगी। जिसकी जानकारी बदरीनाथ केदारनाथ मन्दिर समिति के पीआरओ डा. हरीश गौड ने दी है। दूसरे दिन ग्रहण समाप्त होने के बाद नियमित रूप से पूजा अर्चना शुरू की जाएगी।  .

क्यों लगता है चंद्र ग्रहण

हिन्दू धर्म में चंद्रग्रहण को बहुत ही महत्व दिया जाता है। यह हर साल पूर्णिमा के दिन ही लगता है। बता दें कि इस दौरान पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा करती है और चाँद पृथ्वी की। परिक्रमा के इसी काल में जब सूर्य और चद्रमा के बीच पृथ्वी आ जाती है तो पृथ्वी से चाँद का पूरा हिस्सा छिप जाता है इसी को चंद्रग्रहण कहते हैं।